1997 से अब तक

विधायक, सरखेज और नारणपुरा विधानसभा क्षेत्र

Amit Shah's Introduction
  • विधायक के तौर पर अमित भाई ने अपने लगभग दो दशकों के कार्यकाल के दौरान राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर अनेक राजनैतिक और गैर राजनैतिक पदों पर काम किया जिसकी वजह से वह लम्बे समय तक क्षेत्र से बाहर रहे। परन्तु इस व्यस्तता के बावजूद क्षेत्र के विकास कार्यों की रफ्तार में कमी नहीं आने दी और वह लगातार क्षेत्रवासियों के संपर्क मे रहे। विधानसभा क्षेत्र में अमित भाई की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगता है कि आने वाले प्रत्येक चुनाव में उनकी जीत का अंतर लगातार बढता रहा। पहली बार जब वह चुनाव लडे़ तो जीत का अंतर 24689 था जो अगले चुनाव मे बढकर 132477 हो गया और अगले दो चुनावो में अमित भाई रिकार्ड 288327 और 232823 वोटो से जीते। परिसीमन के बाद नई बनी विधानसभा नारणपुरा से जब वह पांचवी बार विधानसभा का चुनाव लडे तो मतदाताओं की संख्या पूर्व से एक चौथाई रह जाने के बावजूद जीत का अंतर 63235 वोट रहा। अपनी स्वयं की विधायक निधि के अलावा AUDA, राज्य सरकार, और अन्य स्त्रोतों द्वारा हजारो करोड रूपये की व्यवस्था करके अमित भाई ने निम्नलिखित जनकल्याण की योजनाओं को कार्यान्वित करके अपने क्षेत्र के निवासियों की लगातार सेवा की है।
  • विधानसभा क्षेत्र में किये गए कुछ महत्त्वपूर्ण कार्य
  • अमित भाई का विधानसभा क्षेत्र गुजरात का दूसरा सबसे बडा़ क्षेत्र था जो कि तीन तालुकाओं में फैला था। इस सारे क्षेत्र का पानी फ्लोराइड से प्रदूषित था जिसकी वजह से क्षेत्रवासी तरह - तरह की बीमारियों से पीड़ित थे। विधायक बनने के बाद अमित भाई ने 1400 करोड़ की लागत की योजनाओं द्वारा सारे क्षेत्र में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था कराकर वर्षो पुरानी पेयजल की समस्या का समाधान कर लोगों को राहत दी।
  • युवा शक्ति को देश का भविष्य मानने वाले अमित भाई ने विधानसभा क्षेत्र में एक अत्याधुनिक खेल संकुल का निर्माण किया। इस खेल सकुंल में बैडमिंटन, टेबल टेनिस, तैराकी, स्केटिंग, वालीबाल और क्रिकेट जैसी कई खेल सुविधायें उपलब्ध हैं।
  • Amit Shah's Introduction
  • पर्यावरण के महत्व को समझते हुए अमित भाई ने अपने विधानसभा क्षेत्र में 75 उद्यानों का निर्माण और सवा लाख सें अधिक वृक्षो का रोपण करवाया।
  • स्वच्छता को ध्यान में रखते हुये 80 करोड की लागत से 30 किमी. लम्बी नालियों का निर्माण कराकर क्षेत्र को जलभराव की समस्या से राहत दी।
  • “जल ही जीवन’’ की महत्ता को बहुत पहले ही समझ कई जलाशयों का निर्माण करके “रेन वाटर हारवेस्टिंग’’ को बढावा दिया।
  • अपने स्वच्छता के अभियान को आगे बढाते हुए ’डोर स्टेप’ पर कचरा एकत्र कराके ‘सालिड वेस्ट मेनेजमेंट प्लांट’ का निर्माण किया।
  • घनी आबादी वालें क्षेत्रो में ट्रैफिक व्यवस्था को ठीक करने के लिए अमित भाई ने कई फ्लाईओवरों, ब्रिजों, अन्डर ब्रिजों और एक रिंग रोड का निर्माण कराया। इस आधुनिक यातायात व्यवस्था की वजह से न सिर्फ लोगों का समय बचा बल्कि क्षेत्र को प्रदूषण से भी राहत मिली।
  • विधानसभा क्षेत्र में श्मशान न होने की वजह से आम जनता को बहुत परेशानियों का सामना करना पडता था। अमित भाई के उपक्रम से AUDA, सांसद निधि, विधायक निधि द्वारा संसाधन उपलब्ध कराके एक आधुनिक श्मशान गृह की स्थापना करके जनता को भारी राहत दी।
  • प्राकृतिक सौन्दर्य से मानसिक विकास की महत्ता को समझते हुए अमित भाई ने घनी आबादी वाले क्षेत्रों में “गौरव पथ’’ और फव्वारों का निर्माण करवाया।
  • विधानसभा क्षेत्र की अनेक झुग्गी बस्तियों में रहने वाले गरीबों के पुनर्वसन की समुचित व्यवस्था करवा कर खाली हुई जमीन का सौन्दर्यीकरण करवाया।